हॉट मुस्लिम गर्लफ्रेंड चुदी गैर मर्द से अपना ब्रेकअप करवाने

नूरी और उसके बॉयफ्रेंड युसूफ के बीच एक लड़की को लेकर झगड़ा शुरू हो गया था। वह लड़की रुखसार थी जिसने नूरी की गांड़ जलाकर रखी थी। रुखसार ने नूरी को उसके और युसूफ के बीच हुई सेक्सटिंग वाली बातें बतायी थी।

उसके बाद से रुखसार नूरी को हमेशा ताने मारने लगी। वह बोलती थी, “यार नूरी, तू युसूफ को अपनी चूत पेलने दे दिया कर। कुत्ता मेरी चूत मारने के पीछे पड़ा है।’’

युसूफ रुखसार से न्यू ईयर पार्टी में मिला था। तब से नूरी को उसपर शक होने लगा था। पार्टी के बारे में सोचते वक़्त, नूरी को एक घटना याद आ गयी। जब वह पेशाब करने टॉयलेट की तरफ़ चल रही थी, तब उसने रिचर्ड को एक लड़की के साथ टॉयलेट में घुसते देखा था।

उस लड़की की सिसकियां सुनकर नूरी की पैंटी में थोड़ी-सी पेशाब निकल गयी थी। वह अपने तंग हुए निप्पलों पर उंगली घुमाकर मस्त हो रही थी। तभी नूरी को युसूफ की याद आ गयी और वह तुरंत वहां से चली गयी। रिचर्ड उसके कॉलेज में पढ़ता था और सभी लड़कियां जानती थी कि वह हवस का पुजारी है।

कुछ देर बाद, रिचर्ड नूरी के पास आकर उससे कहने लगा, “अगर तुम भी अंदर आती तो मज़ा दोगुना हो जाता।” नूरी घबरा उठी और रिचर्ड से कहने लगी, “तुम क्या बोल रहे हो? मुझे कुछ समज नहीं आ रहा।”

रिचर्ड ने कहा, “कोई बात नहीं जान। तुम्हें जब भी मेरी ज़रूरत हो, आ जाना।” रिचर्ड की गरम सासों ने नूरी को मदहोश कर दिया था। उसकी पैंटी और गीली हो गयी थी।

उस घटना को याद करने के बाद, नूरी ने युसूफ को सबक सिखाने की सोची थी। रिचर्ड के बारे में याद करते वक़्त, नूरी अपनी चूत पर उंगली रगड़ने लगी। फिर से उसकी चूत ने पानी छोड़ दिया और उस बार पानी चिपचिपा था।

नूरी ने रिचर्ड को फ़ोन किया और कहा कि वह उससे मिलना चाहती है। रिचर्ड ने उसे दूसरे दिन घर पर आने को कहा। उस रात, नूरी ने रिचर्ड के बारे में सोचते हुए अपनी चूत में उंगली घुसायी थी।

अगले दिन नूरी रिचर्ड के घर पहुंची और इधर उधर की बातें करने लगी। थोड़ी देर बाद, रिचर्ड ने नूरी से पूछा, “उस दिन तुम यही सोच रही थी ना कि मुझे पता कैसे चला?” नूरी को शरमाते देख रिचर्ड ने कहा, “तुम्हारी इत्र की ख़ुशबू से।”
रिचर्ड नूरी के पास आकर बैठ गया और उसकी जांग पर हाथ घुमाने लगा। नूरी की गीली चूत इतनी उत्तेजित हो गयी थी कि उसने चिपचिपा पानी छोड़ दिया था। रिचर्ड ने उसकी तेज़ चलती सासों से जाना कि वह चुदाई के लिए तैयार है। नूरी की जांग से हथेली को सरकाते हुए वह चूत पर आ पहुंचा।

जब रिचर्ड उसकी चूत पर प्यार से हथेली सहला रहा था, तब नूरी ने उससे शरमाते हुए कहा, “मुझे उस दिन वाली यादें ताज़ा करनी है।” रिचर्ड और नूरी उठकर टॉयलेट की तरफ़ चलने लगे। तभी रिचर्ड ने कहा, “उस दिन तो मैंने जल्दबाजी में उसे चोदा था। लेकिन आज तो इस घर में तुम्हारी चीखें निकाल दूंगा।”

टॉयलेट में जाते ही दोनों ने एक दूसरे को बाहों में भर लिया। दोनों एक दूसरे की गरम सासों से उत्तेजित होकर होठों की चुम्मियां लेने लगे। रिचर्ड नूरी के चूतड़ों का सहारा लेते हुए लंड को उसकी चूत पर दबाने लगा। नूरी ने रिचर्ड के शॉर्ट्स में हाथ ड़ालकर उसका लंड पकड़ लिया। लंड को हिलाते हुए नूरी पैरों के बल बैठ गयी।

रिचर्ड के तनकर खड़े हुए लंड को नूरी ने मुंह में भर लिया। लंड को थूक से गीला करने के बाद, नूरी ने उसे चूसना शुरू किया। रिचर्ड उसका सर पकड़ते हुए लंड को मुंह में धकल रहा था।

नूरी ने रिचर्ड की गोटियों को उंगलियों से सहलाकर उसे उकसाना शुरू किया। काफ़ी देर तक लंड चूसने के बाद, नूरी खड़ी होकर कपड़े उतारने लगी। रिचर्ड ने नूरी को ब्रा पैंटी उतारते वक़्त रोका और उसे जकड़ लिया।

रिचर्ड ने नूरी के चूचियों पर मुंह दबाया और उसकी गांड़ पकड़कर उसे उठा लिया। लंड को नूरी की पैंटी के अंदर घुसाकर वह उसे रगड़ने लगा। जब उसने नूरी की गांड़ को मसलना शुरू किया, तब उसकी हल्की-सी चीख़ निकल गयी। नूरी सिसकियां लेते हुए रिचर्ड को चुदाई के लिए गरम करने लगी।

नूरी ने उसके लंड को पकड़कर चूत में घुसा दिया। लंड अंदर घुसते ही रिचर्ड नूरी को उसकी गांड़ दबोचकर उछालने लगा। अपनी ब्रा खोलकर नूरी रिचर्ड का चेहरा चूचियों से दबाने लगी।

चुदाई की उत्तेजना से नूरी की सिसकियां हल्की चीख़ों में बदल गयी। रिचर्ड ने नूरी को नीचे उतार दिया और उसे दीवार की तरफ़ घूमा दिया। उसकी गांड़ को फैलाकर रिचर्ड ने लंड को बीच में दबाकर रगड़ना शुरू किया।

नूरी को चूचियां दिवार पर घिसते हुए देखकर रिचर्ड ने उसे अपने तरफ़ खींच लिया। उसके चूचियां दबोचकर रिचर्ड ने पीछे से लंड को चूत में घुसा दिया। अपनी गांड़ को रिचर्ड के लंड पर दबाते हुए नूरी ने उसकी हथेली को भगशेफ (क्लिटोरिस) पर रख दिया।

रिचर्ड उसकी चूत की चुदाई करने के साथ उसके भगशेफ को रगड़ने लगा। नूरी की चीख़े तेज़ हो गयी थी जिससे उत्तेजित होकर रिचर्ड लंड को ज़ोर से चूत में दबाने लगा।

दोनों के शरीर से पसीना छूट रहा था और उसकी गंध से वह दोनों चुदाई के नशे में खो गये थे। नूरी को रिचर्ड ने अपनी तरफ़ घुमाया और उसे दीवार से चिपका दिया। उसकी टांग उठाकर रिचर्ड ने लंड को गरम चूत में घुसा दिया। उसकी छाती से चिपककर रिचर्ड उसके होठों की चुम्मियां लेने लगा।

नूरी भी अपने चूचियों को रिचर्ड की छाती से दबाकर उसकी पीठ को खरोंचना शुरू किया। अचानक से नूरी ने रिचर्ड का लंड चूत से बाहर निकाला और खड़े-खड़े पेशाब की धार छोड़ दी। उसके कांपते पैरों को देखकर रिचर्ड ने उसे सहारा दिया और फिर से चूत चुदाई शुरू कर दी।

रिचर्ड ने थोड़ी देर बाद चुदाई को रोक दिया। उसने नूरी को नीचे पैरों ने बल बिठाकर उसके मुंह में लंड भर दिया। नूरी ने जैसे ही लंड को चूसना शुरू किया, रिचर्ड ने माल को निकाल दिया। रिचर्ड के लंड के पानी को अपने चेहरे पर फैलाकर नूरी उसे देखकर मुस्कुराने लगी।

उसने रिचर्ड से कहा कि वह उसकी एक फोटो खींच ले। बाद में रिचर्ड के साथ नहाकर नूरी उसके घर से निकली। उसने वह फोटो मोबाइल से युसूफ को भेज दिया। उस दिन, युसूफ और नूरी का ब्रेकअप हो गया।

एक दिन रुखसार ने नूरी को जब फिर से ताना मारा, तब नूरी ने उससे कहा, “साली रंडी! अगर तुझे इतनी ही चिंता है उसकी तो ख़ुद अपनी चूत मरवा। मैं कुत्तों के मुंह नहीं लगती।”