स्कूल की मैडम को किया प्रेग्नेंट

नमस्कार दोस्तों मेरा नाम अजय है और आज मैं आपके सामने एक नई कहानी लेकर आया हूं। मुझे उम्मीद है कि आपको यह कहानी पसंद आएगी। मैं 12वीं क्लास में पढ़ता हूं और मेरी उम्र 19 साल है।

आपको पता ही है कि उस उम्र में तो लड़कों का मन सेक्स के सिवाय और किसी काम में नहीं लगता है। इसलिए मैं भी कई दिनों से सेक्स करने के लिए बेकरार था और किसी को ढूंढ रहा था जो मेरी इस तड़प को मिटा सकें।

मैं जिस स्कूल में पढ़ता था उस स्कूल में एक मैडम पढ़ाती थी जिनका नाम स्मृति था। उनकी शादी को 15 साल हो चुके थे लेकिन उनका भी तक कोई भी बच्चा नहीं हुआ था।

उन्होंने कई जगह पूजा-पाठ करवाए और कई डाक्टरों से भी सलाह ले चुके थे और कई दवाइयां भी खा चुके थे लेकिन इसका कोई भी फायदा नहीं हुआ और अभी तक उन्हें कोई भी बचा नहीं हुआ था। वह कभी-कभी हमारी क्लास लिया करती थी।

हाइट में तो वह 5 फुट 3 या 4 इंच की होगी लेकिन उनके बूब्स के साइज बहुत ही बड़े बड़े थे और ऐसा लगता था जैसे किसी ने उनके छाती पर दो बड़े बड़े तरबूज रख दिए हो।

और हाईट छोटी होने के कारण उनके बड़े बूब्स और ही ज्यादा बड़े लगते थे और मेरा तो मन करता था इनको खा आ जाऊं और दोनों बूब्स को दबा दबा कर उसमें भरा सारा दूध निकाल दूं। मैं अब तक मैडम को याद कर करके कई बार मुठ मार चुका था और एक दो बार तो मैं स्कूल के बाथरूम में भी मैडम पी नाम की मुट्ठ मार चुका था।

जब भी मैडम हमें पढ़ाने आती और अगर कुछ नीचे गिर जाता और उसे उठाने के लिए झुकती तो उनके बूब्स के दर्शन पूरी क्लास के लौंडो को होते और सभी का लन्ड खड़ा हो जाता। एक दिन मैडम ने मुझे बाथरूम में मुट्ठ मारते हुए पकड़ लिया।

और उन्होंने मुझे अपने ऑफिस में बुला लिया। उन्होंने कहा यह कैसी हरकतें करते हो तुम स्कूल में। आगे से ऐसा मत करना नहीं तो शिकायत तुम्हारे घर वालों से कर दी जाएगी।

उस वक्त पता नहीं मुझे मैं कहां से हिम्मत आ गई और मैंने कहा मैडम आप हो ही इतनी खूबसूरत कि आपको देखकर यही करने का मन करता है। उसने मुझे डांटने की बजाय कहा तुम अभी बहुत छोटे हो। मैंने कहा मैडम जी उम्र में छोटा हूं लेकिन हथियार बहुत बड़ा है।

फिर उसने कहा तुम्हें लगता है तुम्हारा हथियार बड़ा है लेकिन असल में कुछ भी नहीं है। फिर मैंने कहा आप ट्राई करके देख लो। उसने कहा ठीक है तुम शाम को 4:00 बजे मेरे घर आ जाना फिर हम देखेंगे। उसकी बात सुनकर मेरा तो खुशी का ठिकाना ना रहा।

बस 4:00 बजने का इंतजार करने लगा और जैसे ही 4:00 बजे मैं मैडम के घर पहुंच गया। मैडम घर पर अकेली थी और उसने एक मैक्सी पहन रखी थी। सेक्सी के अंदर साइड कुछ नहीं पहना था इसलिए उनके उसकी चूचियां साफ़ दिखाई दे रही थी।

मैंने कहा कुछ पियोगे मैंने कहा अब तो मैं सिर्फ दूध पियूंगा और वह भी आपका। सीमा तुमने कहा रे मेरे को भी दूर तो आता नहीं है इसलिए जो घर में है वही दूध पी ले। ऐसा क्या करूं वह मेरे लिए रसोई से एक ग्लास दूध लेकर आई और मैंने सारा का सारा दूध एक ही सांस में पी लिया।

फिर मैंने मैडम को कहा क्या है आप मेरा प्यार देखने के लिए। इतना क्या करना है मैडम के बूब्स को दोनों हाथों से पकड़ लिया और उनके होठों पर किस करने लगा। मैडम भी मेरा साथ देने लगी हो और हम दोनों वहीं सोफे पर बैठ कर करीब 5 मिनट तक एक दूसरे को किस करते रहे।

मैडम धीरे धीरे से मेरे पैंट की जिप खोली और मेरा लन्ड पेंट से बाहर निकाला। मेरा 7 इंच का लोड़ा देखकर मैडम चौंक गई और कहा अरे सच में तुम्हारा हथियार तो बहुत बड़ा है। फिर उन्होंने मेरे लंड को मुंह में डाल दिया है और अब से जोर जोर से चूसने लगी थी।

बड़े ही अच्छे तरीके से मेरे लन्ड को चूस रही थी और मुझे बहुत ही ज्यादा मजा आ रहा था। वह काफी देर तक मेरा लैंड चुस्ती रही और मेरा माल निकलने वाला था तो मैंने मैडम से कहा मैडम माल निकलने वाला है।

लेकिन वह लगातार चूसे जा रही थी और फिर मैंने अम्महह की आवाज निकालते हुए सारा माल मैडम के मुंह के अंदर ही निकाल दिया और कुछ उनके होंठों और नाक पर भी गिर गया।

इस तरह आग लगा छोटा शांत होकर सोफे पर बैठा और फिर मैंने मैडम की मैक्सी उतार दी। अब उन्होंने भी मेरे कपड़े उतार दिए और मैडम के बूब्स चूसने लगा और अपने एक हाथ से उनकी चुत में उंगली करने लगा।

मैडम जी आप बस क्या भाई रही थी और मुझे और तेजी से करने को कह रही थी। मैं बीच-बीच में उनकी चुचियों पर दांत भी काट रहा था। जिसके कारण मैडम बोली अरे इन्हे खा जाएगा क्या।

फिर मैंने मैडम टांगे पकड़ी और उन्हें चौड़ा किया और उनकी चुत पर एक किस करते हुए अपना लन्ड उनकी चुत के ऊपर लगा दिया और झटका देते हुए धीरे-धीरे पूरा अंदर घुसा दिया।

क्योंकि मैंने बहुत सी पोर्न फिल्में देख रखी थी इसलिए मुझे बहुत सारी पोजीशनों के बारे में पता था। मैंने मैडम को करीब 15 मिनट तक 3 से 4 पोजीशन में चोदा और उनके खूब सारे मजे लिए।

मैडम अब तक दो बार झड़ चुकी थी और मैं क्योंकि मैंने पहले ही अपना माल मैडम के मुंह में निकाल चुका था इसलिए अभी मुझे दूसरी बात झड़ने में ज्यादा समय लगने वाला था। इसीलिए मैं उन्हें अब तेजी से चोदने लगा और उनके मुंह से आह्ह… ओह डार्लिंग….. फक मी… हार्ड… आईएम इन हेवेन की आवाजे निकालने लगी।

उनकी यह सेक्सी आवाजें सुनकर मैं और ज्यादा उत्तेजित हो गया और मैं उन्हें अब और जोर से चोदने लगा। काम करने वाला था इसलिए मैंने एक जोर का झटका दिया और अपने लन्ड का सारा माल एक पिचकारी मारते हुए मैडम की चुत के अंदर ही निकाल दिया।

और उनके ऊपर लेट गया। मैंने मैडम का एक अपने मुंह में डाल लिया और उसे चूसने लगा। फिर तो हम थोड़ी देर तक वैसे ही पड़े रहे और थोड़ी देर आराम किया।

उसके बाद हमने अपने अपने कपड़े पहने और क्योंकि मैडम का पति घर आने वाला था इसलिए मेरा अपने घर चला गया। इसके बाद मैडम का अफेयर मेरे साथ कई दिन तक चला। इस बात को अब 2 साल हो चुके हैं और अब तो मैडम का एक बच्चा भी हो गया है।