रिया की कुंवारी चुत की सील तोड़ डाली

हेलो दोस्तों मैं रजत कुमार हिंदी सेक्सुअल स्टोरीज की वेबसाइट पर आप सभी लोगों का स्वागत करता हूं। आज मैं आपके लिए एक नई कहानी लेकर आया हूं और उम्मीद करता हूं कि आप लोगों को यह कहानी बहुत ही ज्यादा पसंद आएगी।

तो जैसा कि मैंने आपको पिछली बार बताया था कि मेरी गर्लफ्रेंड रिया और मैं दोनों कॉलेज में एडमिशन लेने के लिए गए थे। जब हमने एडमिशन के बारे में सारी पूछताछ कर ली तो हम कॉलेज घूमने लगे।

क्योंकि कॉलेज में कोई भी नहीं था इसलिए हम एक सुनसान कमरे में चले गए वरना गाने रिया से अपना लैंड चुस्वाया और सारा माल उसके मुंह के अंदर निकाल दिया। फिर उसके बाद हम दोनों वापस नीचे आ गए थे।

आज मैं आपको इस कहानी में बताने जा रहा हूं कि कैसे मैंने रिया की हार्ड चुदाई की और उसकी वर्जिनिटी को तोड़ा। तो चलिए बिना किसी देरी के कहानी शुरू करते हैं। हम दोनों को अब कॉलेज में एडमिशन मिल चुका था।

हमारी क्लास में सब लोगों को पता था कि हम दोनों कपल्स हैं। हम दोनों नेता एक साथ बैठक करते थे और एक दूसरे से काफी बातें किया करते थे। लेकिन नए-नए कॉलेज में एडमिशन लेने के बाद हमें कॉलेज के मुताबिक एडजस्ट होना था इसलिए हम दोनों बहुत बिजी रहने लगे।

हालांकि रिया मेरे साथ मेरे बाइक परी को ले जाती थी इसलिए हम दोनों की बात हर रोज हो जाया करती थी। फिर पता ही नहीं चला कब 5 महीने बीत गए वह हमारे एग्जाम भी आ गए थे। अब मैंने तू कॉलेज में पढ़ाई पर ज्यादा कुछ ध्यान नहीं दिया था।

बस सारा दिन ऐसे ही आवारा की तरह घूमता रहता था और कभी-कभी ही लेक्चर लगाता था। इस कारण मैं अपने टीचर से भी कई बार बातें सुन चुका था। फिर मैंने सोचा क्यों ना प्रिया के साथ बैठकर एग्जाम की स्टडी की जाए।

फिर मैंने रिया को बताया कि आज मैं तुम्हारे घर आऊंगा और तुम मुझे जान के बारे में पढ़ा देना। वह बोली ऐसा नहीं हो सकता क्योंकि हमारे घर मेहमान आए हुए हैं और वह लोग बहुत ही ज्यादा हल्ला मचाते हैं।

तो फिर मैंने उससे कहा यह भी कोई बात है तुम मेरे घर आ जाना हमारे घर एकदम शांति रहती है। वह मान गई तो मैंने शाम को उसको उसके घर से पिक अप किया और अपने घर ले आया। हमारे घर में कोई भी नहीं था।

मम्मी पापा दोनों पापा के किसी दोस्त के बेटे की शादी में गए हुए थे। घर में मैं अकेला ही था और मैं बोल दिया दोनों अंदर आ गए। फिर मैंने हम दोनों के लिए कोल्ड ड्रिंक लाई और हम दोनों ने कोल्ड ड्रिंक पीया।

फिर वह मुझे पढ़ाने लग गई और मैं भी थोड़ा बहुत ध्यान लगाकर पढ़ने लगा। लेकिन तभी हमारे पड़ोस में किसी ने डीजे चला दिए। उनके घर किसी बच्चे का जन्म हुआ था इसलिए वह खुशियां मना रहे थे।

रिया ने कहा लो हो गई पढ़ाई अब। मैंने कहा आज उनके घर बच्चा हुआ है उन्होंने लॉकडाउन में सेक्स किया होगा इसीलिए अब जाकर उन्हें बच्चा हो रहा है। चुनरिया के साथ सेक्स भी हरा की बातें सेक्सी नॉर्मल ही करता रहता था।

फिर मैंने उससे कहा क्या तुम सेक्स का मजा लेना चाहोगी। पहले दूसरे काम पढ़ने आए हैं लेकिन बाद में वह भी मान गई और हम दोनों ने एक दूसरे को फ्रेंच किस करना शुरू कर दिया।

मैं उसके होठों को पागलों की तरह चूम रहा था और उसके होठों का रसीला पानी पी रहा था।

अब वह भी उत्तेजित हो चुकी थी इसलिए हम दोनों ने एक दूसरे के कपड़े फटाफट उतार दिए और एक दूसरे के नंगे बदन को सहलाने लगे।

फिर मैंने रिया की ब्रा भी उतार दी और उसके बूब्स को अपने मुंह में लेकर चूसने लगा। उसकी चूचियां बहुत ही ज्यादा टाइट थी लेकिन उसके बूब्स बहुत ही ज्यादा नरम थे।

मैं पागलों की तरह होश में कभी चाहता तो कभी चूमता और कभी कभी काट भी लेता। वह भी सिसकियां भरने लगी। मैंने अपना लंड निकाला और उसे कहा तुमने जिस तरह तुमने उस दिन इसे चूसा था आज भी वैसे ही चूस दो।

उसने फटाफट मेरा लंड पकड़ा और उसे हिलाते हुए अपने मुंह में ले लिया और उसे चूसने लगी। मुझे बहुत ही ज्यादा आनंद आ रहा था और अब मेरा लंड भी अकड़ कर किसी रोड की तरह हो गया था।

अब यह रिया की चूत में घुसने के लिए बिल्कुल तैयार नजर आ रहा था। फिर मैंने रिया की पैंटी उतार रही हो और उसकी चूत पर किस करते हुए उसकी चूत को चाटने लगा।

वह मचलने लगी और जोर-जोर से आहें भरने लगी।

उसके मुंह से उम्मह… उफ्फ.. हाय मा मर गई…. येस…. ओह…. सी..सी..सी…. जैसी आवाज़ निकालने लगी।

थोड़ी ही देर में वो झड़ गई। फिर मैंने अपना लंड उसकी चूत पर रखा और उसे रगड़ने लगा। अब तड़पने लगी और तुम इतनी अच्छी तरह कैसे कर लेते हो।

फिर मैंने एक हल्का सा झटका दिया वह मेरा सुपारा उसकी गीली चूत में घुस गया। वह चिल्ला उठी और बोली बाहर निकालो इसे।

पर मैंने लंड को पीछे करके एक और झटका दिया तो आधा लंड उसकी चूत में घुस गया और उसकी सील टूट गई। उसकी चूत से खून निकलने लगा और वह जोर-जोर से रोने लगी।

लेकिन मैंने फिर थोड़ा उसे सह लाया और थोड़ी देर बाद एक और झटका दिया तो मेरा पूरा लंड उसकी चूत में घुस गया। क्योंकि उसकी पहली चुदाई थी इसलिए वह अधमरी हो गई थी।

लेकिन मैंने उसे से लाया और धीरे-धीरे झटके दिए जब उसका दर्द थोड़ा कम हुआ तो मैंने झटके थोड़े तेज किए। 4 से 5 मिनट के बाद उसने भी चूदाई का आनंद लेना शुरू कर दिया।

अब मैं उसे जोर जोर से धक्के देने लगा और अब्बू बड़े ही प्यार से मेरा साथ देते हुए चोदने लगी।

अब हम दोनों एक दूसरे की आंखों में आंखें डाले हुए थे और सिर्फ फच फच की आवाजे आ रही थी।

15 मिनट की चुदाई में वह दो बार झड़ चुकी थी और अब मैं भी झड़ने वाला था। तुम मैंने अपना लंड निकाला तो वह खून से एकदम लाल हो गया था और अपना माल उसके चूचियों पर गिरा दिया।

फिर मैंने टिशू से सब कुछ साफ किया और उसको अच्छे से पोंछा। फिर उसे पेन किलर खाने को दिया तो उसको दर्द में थोड़ा आराम मिला।

फिर मैंने उसे कहा तुम 1 दिन घर पर आराम करना कॉलेज मत जाना। फिर उसने कहा आई लव यू रजत मेरे होठों पर एक प्यारा सा किस दिया।