शादी में मिली चूत – Hindi Sex stories

हेल्लो दोस्तों कैसे हो आप सभी लोग ? मैं आशा करता हूँ की आप सभी लोग ठीक ही होगे | आप सब लोगो को चुदाई करना तो पसंद ही होगा | अगर पसंद है तो चुदाई भी करते होंगे | मेरा नाम गोलू है | मैं रहने वाला बिहार के एक गाव से हूँ | मेरी उम्र 20 साल है | मैं बी कॉम फस्ट इयर में पढता हूँ | मैं दिखने काफी स्मार्ट हूँ और मेरी हेल्थ भी अच्छा खासी है | मेरे घर में मैं और मेरे मम्मी पापा रहते हैं | मेरे मम्मी पापा मुझे बहुत प्यार करते हैं | दोस्तों मुझे हिंदी सेक्सी कहानियाँ पढना और इंग्लिश सेक्सी वीडियो देखना बहुत पंसद है | जब मेरे फ़ोन में ज्यादा डाटा होता है तब मैं सेक्सी इंग्लिश वीडियो देख लिया करता हूँ अगर कम डाटा होता है तो मैं हिंदी सेक्सी कहानी पढ़ कर मुठ मार लेता हूँ | पर मैंने आज तक चूत नहीं चोदी है | मुझे एक बार चूत चोदने का मौका मिला था | दोस्तों ये मेरी पहली कहानी है और मेरे जीवन की सच्ची घटना जो मेरे साथ एक शादी में हुई थी | ये मेरी पहली कहानी है तो शायद आप सभी को मेरी कहानी में गलती भी नज़र आये | अगर आप लोगो को गलती नज़र आती है तो मैं माफ़ी चाहता हूँ | मैं आप लोगो का ज्यादा समय न लेते हुए सीधे अपनी कहानी पर आता हूँ |
ये कहानी कुछ दिन पहले की है | मेरे पाप को किसी की शादी में जाना था | पर मेरे पापा नही गए और मुझे भेज दिया | जब मैं शादी में पहुंचा तो वहां मुझे एक लडकी मिली जो मुझे लाइन भी दे रही थी | अभी मैं उसका नाम तो जनता नही था | तो उसका नाम तो बता नहीं सकता हूँ | पर उसके फिगर के बारे में बता देता हूँ | वो दिखने में दूध की तरह गोरी थी और उसका बड़े बड़े बूब्स उसकी पतली कमर उसके सिवा एक और चीज है | उसकी गांड जब वो चलती थी तो उसकी गांड मचलती थी | उसके पास इतनी खुबसूरत थी की मुझे किसी हुस्न की रानी से कम तो नही लगती थी | जब वो मुझे देखती थी तो हँसने लगती थी | तो मैंने भी इसरे में कह दिया अच्छी लगा रही हो | तब वो मेरे पास से निकली और एक कागज पर डाल कर चली गयी | जब मैंने उस कागज को उठाया तो उस पर एक नम्बर था और लिखा था कॉल करो और मैंने कॉल की | वो मेरे सामने ही खड़ी थी तब उसने फ़ोन उठा कर बात की और मेरे बारे में बहुत कुछ पूछा और मैंने उसके बारे में फिर मैंने उसको मिलने के लिए बुलाया तो उसने कहा जब सब लोग चले जाते हैं तब मैं आती हूँ | फिर कुछ देर बाद उसने मुझे फ़ोन किया और कहा मेरा घर यहीं पास में है | मेरे घर पर कोई नही है तब वो मुझे अपने घर पर लेकर गयी |
फिर हम वहां बैठ कर अपस में बात करने लगे हम कुछ देर तक बात करते रहे | फिर उसने मेरी होठो पर अपने होठ रख कर मेरे होठो को चूसने लगी | मैं भी उसकी होठो को चूसने लगा साथ में उसके बड़े बड़े बूब्स को कपडे के ऊपर से दबाने लगा | कुछ देर बात मैंने उसके कपडे निकाल कर उसके बूब्स को ब्रा के ऊपर से चूसने लगा | तो वो उह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ उह्ह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ अह्ह्ह अहह अफ्फफ्फ्फ़ फ्फ्फ ऊऊउ ह्ह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ उह्ह्ह्ह अह्ह्ह उह्ह्ह उफ्फ्फ अह्ह्ह उह्ह्ह्ह उफ्फ्फ अह्ह्ह उफ्फ्फ उह्ह अह्ह्ह करने लगी | मैं उसके बूब्स को चूसते चूसते उसकी ब्रा भी खोल दी और उसके एक दूध को मुंह में भार कर चूसने लगा | तो वो उह्ह्ह्ह उफ्फ्फ उफ्फ्फ्फ़ उह्ह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ अह्ह्ह अहह अफ्फफ्फ्फ़ फ्फ्फ ऊऊउ ह्ह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ उह्ह्ह्ह अह्ह्ह उह्ह्ह उफ्फ्फ अह्ह्ह उह्ह्ह्ह उफ्फ्फ अह्ह्ह उफ्फ्फ उह्ह अह्ह्ह करती हुई मेरे सर को सहलाने लगी | मैं उसके पहले वाले दूध को छोड़ कर मैंने उसके दुसरे वाले दूध को मुंह में भार कर उसके दूध को चूसने लगा और पहले वाले को हाथ में पकड कर मसलने लगा | जिससे उसके मुंह से उफ्फ्फ्फ़ उह्ह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ अह्ह्ह अहह अफ्फफ्फ्फ़ फ्फ्फ ऊऊउ ह्ह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ उह्ह्ह्ह अह्ह्ह उह्ह्ह उफ्फ्फ अह्ह्ह उह्ह्ह्ह उफ्फ्फ अह्ह्ह उफ्फ्फ उह्ह अह्ह्ह उह्ह्ह उग्ग्ग उह्ह्ह्ह अहह की सिसिकियाँ निकल गयी | मैं उसके दोनों बूब्स को एक एक करके चूस रहा था | वो मेरे सर को पकड कर उह्ह्ह उफ्फ्फ उह्ह्ह अह्ह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ उह्ह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ अह्ह्ह अहह अफ्फफ्फ्फ़ फ्फ्फ ऊऊउ ह्ह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ उह्ह्ह्ह अह्ह्ह उह्ह्ह उफ्फ्फ अह्ह्ह उह्ह्ह्ह उफ्फ्फ अह्ह्ह उफ्फ्फ उह्ह अह्ह्ह ऊह्ह्ह उह्ह उह्ह्ह्ह ह्ह्ह अह्ह्ह अह्ह्ह्ह करती हुई अपने मुंह में ऊँगली डाल कर चूसने लगी | में उसके दोनों बूब्स को कुछ देर तक चूसने के बाद उसकी पेंटी भी निकाल दी और उसकी टांगो को थोडा सा फेला कर उसकी चूत में अपना मुंह घुसा कर उसकी चूत को चाटने लगा | वो उह्ह्ह उग्ग्ग उफ्फ्फ्फ़ उह्ह्ह अह्ह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ उह्ह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ अह्ह्ह अहह अफ्फफ्फ्फ़ फ्फ्फ ऊऊउ ह्ह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ उह्ह्ह्ह अह्ह्ह उह्ह्ह उफ्फ्फ अह्ह्ह उह्ह्ह्ह उफ्फ्फ अह्ह्ह उफ्फ्फ उह्ह अह्ह्ह करती हुई अपने बूब्स को मसलने लगी | मैं उसकी चूत में अपनी जीभ को घुसा कर अन्दर बाहर करने लगा | मैं उसकी चूत को अपनी जीभ से चोदने लगा | वो उफ्फ्फ्फ़ उह्ह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ अह्ह्ह अहह अफ्फफ्फ्फ़ फ्फ्फ ऊऊउ ह्ह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ उह्ह्ह्ह अह्ह्ह उह्ह्ह उफ्फ्फ अह्ह्ह उह्ह्ह्ह उफ्फ्फ अह्ह्ह उफ्फ्फ उह्ह अह्ह्ह उह्ह्ह उफ्फ्फ करती हुई अपने बूब्स को मसलने लगी और साथ में मेरे सर को पकड कर दबाने लगी | तब मैंने उसकी चूत में अपनी ऊँगली भी घुसा दी और अपनी ऊँगली को जोर जोर से अन्दर बाहर करने लगा | तब वो उह्ह्ह उफ़ उह्ह्ह अहह उफ्फ्फ्फ़ उह्ह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ अह्ह्ह अहह अफ्फफ्फ्फ़ फ्फ्फ ऊऊउ ह्ह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ उह्ह्ह्ह अह्ह्ह उह्ह्ह उफ्फ्फ अह्ह्ह उह्ह्ह्ह उफ्फ्फ अह्ह्ह उफ्फ्फ उह्ह अह्ह्ह य्ह्ह्ह य्फ्फ़ ऊउह्ह्ह अह्ह्ह अह्ह्ह उह्ह्ह करती हुई एक हाथ से अपने बूब्स को दबा रही थी दुसरे हाथ की ऊँगली को चूस रही थी | मैं उसकी चूत को चाटने के साथ उसकी चूत में अपनी ऊँगली से जोर जोर से चोद रहा था | वो उफ्फ्फ्फ़ उह्ह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ अह्ह्ह अहह अफ्फफ्फ्फ़ फ्फ्फ ऊऊउ ह्ह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ उह्ह्ह्ह अह्ह्ह उह्ह्ह उफ्फ्फ अह्ह्ह उह्ह्ह्ह उफ्फ्फ अह्ह्ह उफ्फ्फ उह्ह अह्ह्ह कर रही थी | फिर मैंने अपने कपडे उतार दिए और अपने लंड को उसके हाथ में पकड़ा दिया | वो मेरे लंड को हिलाते हुए अपने मुंह में रख कर चूसने लगी | तो मेरे मुंह से उफ्फ्फ्फ़ उह्ह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ अह्ह्ह अहह अफ्फफ्फ्फ़ फ्फ्फ ऊऊउ ह्ह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ उह्ह्ह्ह अह्ह्ह उह्ह्ह उफ्फ्फ अह्ह्ह उह्ह्ह्ह उफ्फ्फ अह्ह्ह उफ्फ्फ उह्ह अह्ह्ह उह्ह्ह उह्ह्ह उफ्फ्फ उह्ह्ह्ह उह्ह्ह फफफफ ह्ह्ह्हह अह्ह्ह्ह की आवाज निकल गयी | वो मेरे लंड को अन्दर बाहर करते हुए चूस रही थी | मैंने उसके मुंह में धीमे धीमे धक्के मारने लगा | कुछ देर तक में उसके मुंह को चोदता रहा फिर उसके मुंह से अपने लंड को निकाल कर उसकी टांगो को थोडा सा फेला कर उसकी चूत के मुंह पर लंड को रख कर धीरे धीरे अन्दर घुसा दिया | तो उसके मुंह से उफ्फ्फ्फ़ उह्ह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ अह्ह्ह अहह अफ्फफ्फ्फ़ फ्फ्फ ऊऊउ ह्ह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ उह्ह्ह्ह अह्ह्ह उह्ह्ह उफ्फ्फ अह्ह्ह उह्ह्ह्ह उफ्फ्फ अह्ह्ह उफ्फ्फ उह्ह अह्ह्ह उह्ह्ह उह्ह उफ्फ्फ्फ़ अह्ह्ह अह्ह्ह अह्ह्ह की सिसिकियाँ निकल गयी | अब मैं उसकी चूत में लंड को अन्दर बाहर करके चोदने लगा | मैं उसकी चूत में जोर जोर से अन्दर बाहर करके चोद रहा था | वो उफ्फ्फ्फ़ उह्ह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ अह्ह्ह अहह अफ्फफ्फ्फ़ फ्फ्फ ऊऊउ ह्ह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ उह्ह्ह्ह अह्ह्ह उह्ह्ह उफ्फ्फ अह्ह्ह उह्ह्ह्ह उफ्फ्फ अह्ह्ह उफ्फ्फ उह्ह अह्ह्ह उह्ह्ह उफ़ अह्ह्ह करती हुई अपनी चूत को सहला रही थी | मैं उसकी चूत में स्पीड से अन्दर बाहर कर रहा था और मैं उसको कुछ देर तक ऐसे ही चोदता रहा | फिर उसकी चूत से लंड को निकाल कर उसको जमीन में घोड़ी बना कर उसके पीछे से चूत में लंड को डाल कर धीरे धीरे अन्दर बाहर करने लगा | तो उसके मुंह से धीमी धीमी आवाज में उफ्फ्फ्फ़ उह्ह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ अह्ह्ह अहह अफ्फफ्फ्फ़ फ्फ्फ ऊऊउ ह्ह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ उह्ह्ह्ह अह्ह्ह उह्ह्ह उफ्फ्फ अह्ह्ह उह्ह्ह्ह उफ्फ्फ अह्ह्ह उफ्फ्फ उह्ह अह्ह्ह उह्ह्ह उफ्फ्फ अहह उह्ह्ह अह्ह्ह की सिसिकियाँ लेते हुए चुदने लगी | मैंने उसकी चूत में धक्को की स्पीड तेज कर दी और जोरदार धक्को के साथ अन्दर बाहर करते हुए चोदने लगा जिससे कमरे में धक्को की आवाज घुजने लगी | उसके मुंह से उफ्फ्फ्फ़ उह्ह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ अह्ह्ह अहह अफ्फफ्फ्फ़ फ्फ्फ ऊऊउ ह्ह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ उह्ह्ह्ह अह्ह्ह उह्ह्ह उफ्फ्फ अह्ह्ह उह्ह्ह्ह उफ्फ्फ अह्ह्ह उफ्फ्फ उह्ह अह्ह्ह उह्ह्ह उफ्फ्फ अहह उह्ह्ह उआः अह्ह्ह्ह अह्ह्ह की सिसिकियाँ लेते हुए चुद रही थी | मैं उसको ऐसे ही फुल स्पीड से चोद रहा तो वो उफ्फ्फ्फ़ उह्ह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ अह्ह्ह अहह अफ्फफ्फ्फ़ फ्फ्फ ऊऊउ ह्ह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ उह्ह्ह्ह अह्ह्ह उह्ह्ह उफ्फ्फ अह्ह्ह उह्ह्ह्ह उफ्फ्फ अह्ह्ह उफ्फ्फ उह्ह अह्ह्ह करती हुई अपनी चूत को आगे पीछे करती हुई चुद रही थी | मैंने उसकी चूत को ऐसे ही चोदता रहा फिर मुझे लगा की मेरे लंड से माल निकलने वाला है | तब मैंने उसकी चूत से अपने लंड को निकाल कर उसकी गांड पर माल निकाल दिया | इस तरह से मैंने उसकी मस्त चुदाई की |
ये थी मेरी कहानी | तो मैं उम्मीद करता हूँ की आप सभी दोस्तों को मेरी कहानी पसंद आई होगी और पढने में मज़ा भी आया होगा | मेरी कहानी पढने के लिए धन्यवाद् |